ओवैसी नें पाक पीएम को किया शर्मिंदा : कहा खान साहब ! केवल मुस्लिम ही पाक का राष्ट्रपति…?

हैदराबाद : भारत का अपना चिरपरिचित पड़ोसी पाकिस्तान अपना काम-धाम छोंड़कर के भारत के अल्पसंख्यक मुस्लिमों के अधिकारों की चिंता करने के लिए बार्डर पार करके भारत आ गया | फिर क्या था ? जब देश की बात आई तो AMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी नें इमरान खान को कहा हमें ज्ञान देने के बजाय भारत से सीखिए |

हम मोदी सरकार को दिखाएंगे अल्पसंख्यक से कैसा व्यवहार होता है : इमरान खान

 

बालीवुड अभिनेता नसरुद्दीन शाह के ” भीड़ की हिंसा ” वाले बयान पर राजनैतिक सरहदें पार होकर अब अपने पड़ोसी पाकिस्तान के यहाँ तक पहुंच चुकी हैं |

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर इमरान खान पहले जहां भारत के क्रिकेट खिलाड़ियों के साथ खेलते थे लेकिन अब जब वो पाक के पीएम बन चुके हैं तो ऐसे में उनका मन भारत की राजनीति से भी खेलने का कर रहा है |

इसीलिए नसीरुद्दीन शाह के बयान के संदर्भ में उन्होंने कहा कि ” पाकिस्तान भारत की मोदी सरकार को दिखाएगा कि अल्पसंख्यकों के साथ कैसा व्यवहार किया जाता है ” |

मुस्लिम अधिकारों के बारे में पाक भारत से सीखे : असदुद्दीन ओवैसी 

फिर क्या था पड़ोसी पाक जब हमारे मामले में जब जबरदस्ती टांग अड़ाने की कोशिश किया तो AMIM नेता से रहा न गया और उन्होंने करारा जवाब दे दिया |

ओवैसी नें पाक संविधान का हवाला देते हुए इमरान खान को कहा कि ” पाक संविधान के अनुसार केवल मुस्लिम ही पाक का राष्ट्रपति बनने के योग्य होता है | भारत नें कई ऐसे राष्ट्रपति देखे हैं जो दबे कुचले समाज से निकलकर आए हैं ” |

फिर आगे इसी में उन्होंने कहा कि ” यह बहुत बड़ा समय है खान साहब ! कि पाक भारत से समावेशी राजनीति व अल्पसंख्यक अधिकारों के बारे में कुछ सीखे ” |

+ posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous Story

CBSE की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा की तारीखें घोषित

Next Story

JNU में सिर्फ 90 वोट से हारने वाली युथ फॉर इक्वलिटी फिर लड़ेगी जातिगत नीतियों के खिलाफ

Latest from Uncategorized

“अब हिन्दू-मुस्लिम नहीं बैकवर्ड-फॉरवर्ड दंगा होगा, ब्राह्मणों को खदेड़ कर मारिये”, वायरल वीडियो पहुंचा लखनऊ कोर्ट

लखनऊ : ब्राह्मणों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले भाषण और हिंसा भड़काने के आरोप में राष्ट्रीय…

यूपी- जाति देखकर किसानों से ब्याज वसूलेगा बैंक, वन टाइम सेटलमेंट योजना के समाप्त होने के बाद लिया फैसला

हमीरपुर- उत्तरप्रदेश के हमीरपुर जिले में भूमि विकास बैंक में एक लाख तक बकायेदार किसानों से…