कार्य स्थल पर यौन शोषण : राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स जीओएम का गठन

नई दिल्ली : बीजेपी सरकार द्वारा कार्य स्थलों पर होते महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न और उनकी सुरक्षा को मध्य नजर रखते हुए जीओएम का गठन कर दिया है | जीओएम की अध्यक्षता केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह करेंगे |

जीओएम ऐसे यौन उत्पीड़न की रोकथाम और कार्यवाही से जुड़ी गाइडलाइंस देगा जिससे कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की घटनाओं पर रोकथाम हो सकेगी |

हाल ही में शुरू हुए मी टू मूवमेंट के तहत बहुत सी जानी मानी और नामचीन हस्तियों पर महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया जिसमें फिल्मी सितारे नाना पाटेकर से लेकर राजनीति के केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर तक पर यह आरोप लगा |

M J AKBAR

एमजे अकबर पर दर्जन से ज्यादा महिलाओं ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था | जिसके बाद एमजे अकबर को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ा था |

महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने हैशटैग मी टू के मामलों की की जांच रिटायर्ड जजों से कराने का प्रस्ताव दिया था परंतु इस प्रस्ताव को खारिज करते हुए पिछली कैबिनेट ने जीओएम ग्रुप ऑफ मिनिस्टर्स गठन की बात कही |

इसके बाद इस प्रस्ताव को मानते हुए केंद्र सरकार ने राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में जीओएम की स्थापना की |

+ posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous Story

सहारनपुर में खम्बों पर लिखा “ब्राह्मण कौम विदेशी है इनका डीएनए युरेषी है”

Next Story

25 अक्टूबर का इतिहास : आज हुए थे आज़ाद भारत के पहले लोकसभा चुनाव !

Latest from Uncategorized

“अब हिन्दू-मुस्लिम नहीं बैकवर्ड-फॉरवर्ड दंगा होगा, ब्राह्मणों को खदेड़ कर मारिये”, वायरल वीडियो पहुंचा लखनऊ कोर्ट

लखनऊ : ब्राह्मणों के खिलाफ नफरत फैलाने वाले भाषण और हिंसा भड़काने के आरोप में राष्ट्रीय…

यूपी- जाति देखकर किसानों से ब्याज वसूलेगा बैंक, वन टाइम सेटलमेंट योजना के समाप्त होने के बाद लिया फैसला

हमीरपुर- उत्तरप्रदेश के हमीरपुर जिले में भूमि विकास बैंक में एक लाख तक बकायेदार किसानों से…